UPSSSC Hindi Notes PDF Download

UPSSSC Hindi Notes PDF Download  सामान्य हिन्दी से हिन्दी व्याकरण के अति महत्वपूर्ण 2000 प्रश्न

जो किसी न किसी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे गये है।

ये सभी प्रश्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अतिमहत्वपूर्ण इसका पी.डी.एफ. भी डाउनलोड कीजिए

UPSSSC Hindi Notes PDF Download

UPSSSC Hindi Notes PDF Download
UPSSSC Hindi Notes PDF Download

 

संविधान के किस अनुच्छेद के तहत हिन्दी को भारत संघ की राजभाषा के रूप में स्वीकार किया गया है- अनुच्छेद 343

ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित प्रथम हिन्दी साहित्यकार – सुमित्रा नन्दन पन्त (चिदम्बरा) 1968

ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित प्रथम हिंदी महिला साहित्यकार – महादेवी वर्मा (यामा – 1982)

प्रथम व्यास सम्मान – भारत के भाषा परिवार और हिंदी(डॉक्टर रामविलास शर्मा 1991)

बखान शब्द का तत्सम है – व्याख्यान

यह का तत्सम रूप है – अत्र

वह लाचार है क्योंकि वह विकलांग है इस वाक्य में कौन-सा अव्यय है – समुच्चयबोधक

जिस शब्द से क्रिया के होने का समय निर्धारित हो, उसे कहते है – काल

सीता पानी पीती है इसव क्य में वाच्य का कौन-सा रूप प्रयुक्त है – कर्मवाच्य

उससे पढ़ा ही नहीं जाता इस वाक्य में वाच्य का कौन सा रूप प्रयुक्त है – भाववाच्य

सरस्वती पत्रिका के सम्पादक कौन है – महावीर प्रसाद द्वेदी

आत्मजयी के रचयिता है – कुँवर नारायण

हमेश रहने वाला – शाश्वत

इसे भी जाने → महत्वपूर्ण विलोम शब्द Click here

अन्तेवासी – गुरु के समीप रहने वाला शिष्य

निराला को कैसा कवि माना जाता है – क्रान्तिकारी

विशिष्ट अवसर पर विशिष्ट लोगों के समक्ष दिया गया विद्धतापूर्ण भाषण – अभिभाषण

आषाढ़ का एक दिन (नाटक) के रचयिता है- मोहन राकेश

भूषण किस रस के कवि थे – वीर रस के

तोड़ती पत्थर(कविता) के कवि है – सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला

किसी सहित्यिक कृति की समालोचना करने वाला – समीक्षक

मानस का हंस के लेखक का नाम है – अमृत लाल नागर

जिसकी आशा न की गई हो – अप्रत्याशित

आँसू (काव्य) के रचनाकार है – जयशंकर प्रसाद

ले चल मुझे भूलावा देकर मेरे नाविक धीरे-धीरे प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता है – जयशंकर प्रसाद

ध्रुवस्वामिनी(नाटक) के रचयिता है – जयशंकर प्रसाद

ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाले हिन्दी के प्रथम साहित्यकार है – सुमित्रानन्दन पन्त

साखी के रचयिता है – कबिरदास

वाक्यंरसात्मकं काव्यम् किसका कथन है- विश्वनाथ

चाँदा का मुँह टेढा है (काव्य) के रचयिता है – गजानन माधव मुक्तिबोध

संदेश रासक के रचयिता है – अब्दुर रहमान

अन्योन्याश्रित – एक-दूसरे पर आश्रित होना

अनुमति – किसी कार्य के लिए सहमति देना

सर्कस(उपन्यास) के रचनाकार है – संजीव

रामधारी सिंह दिनकर को भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त हुआ था- उर्वशी पर

जिसके समान दूसरा न हो – अप्रतिम

अगोचर – जिसका अनुभव इन्द्रियों को न हो

इसे भी जाने → हिन्दी साहित्य का इतिहास Click here

मसि कागद छुयो नहीं कलम गही नहिं हाथ प्रस्तुत पंकित के रचयिता है – कबीरदास

किस कार को स्वर्णकाल कहा जाता है – भक्तिकाल को

ट , ठ , ड , ढ वर्णों के प्रयोग का सम्बन्ध काव्य के किस गुण से है – ओज

अशोक का फूल(निबन्ध-संग्रह) के रचनाकार है – हजारी प्रसाद द्धिवेदी

युयुत्सु – युद्ध करने का इच्छुक

किलक अरे मैं नेह निहारुँ इन दाँतो पर मोती वारुँ इन पंक्तियों में कौन-सा रस है – वत्सल रस

हिन्दी के प्रथम गद्यकार है – लल्लूलाल

किसी संस्था के 25 वर्ष पूरे होने वाले उत्सव के लिए शब्द है- रजत जयन्ती

संदेश रासक के रचयिता है – अब्दुर रहमान

पवन का सन्धि-विच्छेद होगा – पो+अन

खण्डन का विलोम शब्द है – मण्डन

खेचर का विलोम शब्द है – भूचर

गणतन्त्र का विलोम शब्द है – राजतन्त्र

गम्भीर का विलोम शब्द है – वाचाल

गृहीत क विलोम शब्द है – त्यक्त

गोचर का विलोम शब्द है – अगोचर

पीताम्बर में कौन-सा समास है – बहुव्रीहि समास

नोट→ महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द जाने Click here

किसी बात या तथ्य को गलत ठहराना वाक्य के लिए एक शब्द होगा – खण्डन

संख्या और परिमाण आदि का नियमपूर्वक विवेचन करने वाला शास्त्र वाक्य के लिए एक शब्द होगा – गणित

पानी में डूबकर चलने वाला नाव वाक्य के लिए एक शब्द होगा – पनडूब्बी

सत,रज् व तम् से परे वाक्य के लिए एक शब्द होगा – गुणातीत

सार्वजनिक रूप से किया गया ऐलान वाक्य के लिए एक शब्द होगा – घोषणा

सावधान करने के ले कही जाने वाली बात वाक्य के लिए एक शब्द होगा –चेतावनी

पेट की अग्नि वाक्य के लिए एक शब्द होगा- जठराग्नि

जीतने की इच्छा वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जिजीविषा

त्याग करने की इच्छा रखने वाला वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जिहासु

सर्दी , गर्मी ,दुःख आदि सहन करने की शक्ति वाक्य के लिए एक शब्द होगा – तितिक्षा

गुफा शब्द है – तद्भव

गेहुँ का तत्सम शब्द है – गोधूम

गोमल का तद्भव शब्द कौन है – गोबर

झरना का तत्सम शब्द है – निर्झर

तुरन्त का तत्सम शब्द है – त्वरित

युक्ति का तद्भव शब्द है – जुगति

जब का तत्सम है – यदा

इसे भी जाने → अनेक शब्दों के लिए एक शब्द Click here

प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन कहा हुआ था- नागपुर (1975)

काशी हिंदू विश्वविद्यालय के प्रथम हिंदी विभागाध्यक्ष – श्यामसुंदर दास

साहित्य अकादमी का प्रथम अध्यक्ष – पंडित जवाहरलाल नेहरु

हिंदी साहित्य परिषद का प्रथम अध्यक्ष – पुरुषोत्तम दास टंडन

संयुक्त राष्ट्र संघ में हिंदी में भाषाण देने वाला प्रथम व्यक्ति – अटल बिहारी वाजपेई (1977)

हिंदी भाषा का प्रथम बैज्ञानिक इतिहास – हिंदी भाषा का इतिहास 1933 धीरेंद्र वर्मा

स्वर के लिए एक अन्य नाम भी प्रयुक्त होता है वह है – प्लुत्

किसी सरकारी पत्र के लेखन में कौन सी भाषा प्रयुक्त होती है- औपचारिक

अधिकांश भारतीय भाषाओं का विकास किस लिपि से हुआ है – ब्राह्मी लिपि

आधुनिक हिंदी का काल है – 1850 से अब तक

ढूँढाणी किस क्षेत्र विशेष की बोली है – पूर्वी राजस्थान

छत्तीसगढ़ी बोली किससे सम्बन्धित है – पूर्वी हिन्दी

वर्णों का अर्थपूर्ण समूह क्या कहलाता है – शब्द

अवधी भाषा का कवि है – तुलसीदास

उत्तर प्रदेश के फर्रूखाबाद एवं शाहजंहापुर में प्रचलित बोली है – कन्नौजी

अर्थ के आधार पर संज्ञा के कितने प्रकार निर्धारित किए गए है – पांच

हिन्दी दिवस कब मनाया जाता है – 14 सितम्बर

क्या आप सामान्य हिन्दी प्रैक्टिस सेट सीरिज देना चाहते है Click here

हिन्दी भाषा बनाने का प्रस्ताव किसने रखा था – जी.वी. खेर ने

कुरुक्षेत्र को क्या कहा जाता है – रणक्षेत्र

रानी केतकी की कहानी के रचयिता है- इंशा अल्लाह खां

साधु शब्द का स्त्रीलिंग है – साध्वीं

शिरीष के फूल किसकी रचना है – हजारी प्रसाद द्वेदी

वर्तमान समय में संविधान द्वारा स्वीकृत भाषाओं की संख्या है – 22

कविता में मुक्त छन्द का प्रयोग किसने आरम्भ किया था – सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला

हिन्दुस्तानी भाषा का रूप क्या है – हिन्दी उर्दु मिश्रित

शेष स्मृतियाँ के लेखक है – रघुवीर सिंह

नन्ददास की किस रचना का सम्बन्ध नायक-नायिका भेद से है – रसमंजरी

किस पत्र के माध्यम से कोई एक सूचना, निर्देश एक साथ अनेक मंत्रालयों कार्यालयों विभागों आदि तक भेजी जाती है – परिपत्र

हिन्दुस्तानी पत्रिका का प्रकाशन किस संस्था ने प्रारम्भ किया – हिन्दुस्तानी अकादमी द्वारा

भूतकाल के कितने भेद होते है- 6

दीदी पत्रिका के सम्पादक थे- ठाकुर श्रीनाथ सिंह

भाषा शब्द संस्कृत के किस धातु से बना है – भाष्

सब्बंगी रचना किसकी है- रज्जब

ध्यान दे → हिन्दी वर्तनी शब्द Click here

दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा का मुख्यालय कहाँ है – मद्रास(चेन्नई)

आनन्द कादम्बिनी के संस्थापक थे- बदरीनारायण चौधरी (प्रेमघन)

जनतन्त्र का जन्म किस कवि की रचना है – रामधारी सिंह दिनकर

वापसी कहानी में किस पात्र की वापसी का जिक्र है – गजाधर बाबू

दिल्ली में एक मौत किस कहानीकार की रचना है – कमलेश्वर

मधुर-मधुर मेरे दीपक जल में कौन-सा भाव व्यक्त हुआ है- विरह और रहस्य

अलगू चौधरी और जुम्मन शेख किस कहानी के पात्र है – पंच परमेश्वर

प्रगतिशील लेखक संघ की स्थापना भारतवर्ष में कब हुई थी- 1936 में

शिव का विशेषण क्या है – शैव

यथाशक्ति शब्द में कौन-सा समास है – अव्ययीभाव समास

ग्रिम नियम का सम्बन्ध किससे है – स्वनिम् विज्ञान

अपादान कारक की विभक्ति क्या है – से (अलग होना)

जल में लगने वाली आग – बड़वाग्नि

बहुत सी भाषाओं को जानने वाला- बहुभाषविद्

जो बुद्धि द्वारा समझा जा सके – बोधगम्य

कम बोलने वाला – मितभाषी

नीचे की ओर मुख किए हुए – अधोमुख

नीचे की ओर लाना या खींचन – अपकर्ष

जीव विज्ञान से महत्वपूर्ण 1000 प्रश्न Click here

जिसे मनोवांछित की प्राप्ति हो गई हो – सन्तुष्ट

एक स्थान से दूसरे स्थान हो हटाया हुआ – स्थानान्तरित

हवन में जलाने वाली लकड़ी – समिधा

अगहन और पूस में पड़ने वाली ऋतु – हेमन्त

पहचान का तत्सम शब्द है – प्रत्यभिज्ञान

बहनोई शब्द का तत्सम है – भगिनीपति

बत्ती शब्द का तत्तम है – वर्तिका

संज्ञा के गुण, रंग आकार बताने वाला विशेषण है – गुणवाचक विशेषण

आलस्य शब्द का विशेषण क्या है – आलसी

तुलनात्मक विशेषण की दृष्टि से कौन उत्तमावस्था में है – सर्वोत्तम

दो या दो से अधिक वस्तुओं या भावों के गुण,भाव आदि के मिलान या तुलना करने वाले विशेषण को क्या कहते है – तुलनात्मक

बहुत तेज वर्षा हो रही है- इसमें प्रविशेषण कौन-सा शब्द है – बहुत

कुछ लड़कियाँ आ रही है इस वाक्य में कौन-सा विशेषण है – परिमाणवाचक

पीली साड़ी दुकान से खरीदी है। इस वाक्य में विशेषण तथा विशेष्य क्रमशः है – पीली , साड़ी

सारी पृथ्वी का राजा वाक्य के लिए एक शब्द होगा – चक्रवर्ती

जन्तु विज्ञान से 500 महत्वपूर्ण प्रश्न Click here

कष्ट से सम्पन्न होने वाला वाक्य के लिए एक शब्द होगा- कष्टसाध्य

पृष्टव्य वाक्य के लिए एक शब्द होगा- पूछने योग्य

जो किसी कार्य अथवा चिन्तन में डूबा हुआ हो – तल्लीन

किसी बात को करने का निश्चय वाक्य के लिए एक शब्द होगा – संकल्प

छायावाद के प्रवर्तक है – जयशंकर प्रसाद

प्रेमचन्द के अधूरे उपन्यास का नाम है – मंगलसूत्र

हम दीवानों की क्या हस्ती है, है आज यहाँ कल वहां चले। मस्ती का आलम साथ चला हम धूर उड़ाते जहाँ चले प्रस्तुत पंक्तियों के रचयिता है – भगवतीचरण वर्मा

जिसने देश के साथ विश्वासघात किया हो वाक्य के लिए एक शब्द होगा – देशद्रोही

प्रगतिवाद उपयोगितावाद का दूसरा नाम है यह कथन किसका है – नन्द दूलारे वाजपेयी

निश्चित समय के भीतर पत्र का उत्तर न प्राप्त होने की दशा में अनुबोधक के रूप में भेजा जाने वाला पत्र – अनुस्मारक

पार्थिव वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जिसका सम्बन्ध पृथ्व से हो

कितने पाकिस्तान नामक उपन्यास के लेखक है – खुशवन्त सिंह

अतीत के चलचित्र के रचयिता है – महादेवी वर्मा

शब्दार्थो सहितं काव्यम्। यह उक्ति किसकी है – भामह

इसे भी जाने विविध टेस्ट सीरिज Click here

मलिक मोहम्मद जायसी को जायसी कहा जाता है क्योंकि वे थे – जायस नाम स्थान के निवासी थे

अनामदास का पोथा(उपन्यास) के रचयिता है – हजारी प्रसाद द्धिवेदी

वह वस्तु जो नाशवान हो वाक्य के लिए एक शब्द होगा – नश्वर

रणदास चोर किसकी नाट्य कृति है – हबीब तनवीर

शिवा बावनी के रचनाकर है – भूषण

जिजीविषा वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जीवन की इच्छा

जल/समुद्र में लगने वाली आग – बडवाग्नि

अंक का पर्यायवाची है – संख्या

अरण्य का पर्यायवाची है – कानन

असुर का समानार्थी है – राक्षस

शेष कादम्बरी के रचयिता है – बाणभट्ट

प्रत्युत्पन्नमति वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जो तत्काल उत्तर दे सके

हर काम को देर से करने वाला वाक्य के लिए एक शब्द होगा – दीर्घसूत्री

मृगनयनी उपन्यास के रचनाकर है – वृन्दावन लाल वर्मा

पेट की आग वाक्य के लिए एक शब्द होगा – जठराग्नि

पृथ्वी के तीनों ओर पानी वाला स्थान – प्रायद्धीप

खड़ी बोली के सर्वप्रथम लोकप्रिय कवि कौन माने जाते है – अयोध्या सिंह उपाध्याय (हरिऔध)

आनन्द का पर्यायवाची है – प्रमोद

जैसी करनी, वैसी भरनी वाक्य में रेखाकित शब्द क्या है – सम्बन्धवाचक सर्वनाम

किसका उपनाम उग्र कहते है – पाण्डेय बेचन शर्मा

उर्वसी किस कवि की रचना है – रामधारी सिंह दिनकर की

विनयपत्रिका के रचयिता का नाम है – तुलसीदास

विनयपत्रिका किस भाषा में लिखी गई है – ब्रज

प्रसिद्ध राज्यों के लोकनृत्य Click here

रामचरित्रमानस काव्य में कितने काण्ड है – 07

जनमेजय का नागयज्ञ किसकी कृति है – जयशंकर प्रसाद

अतिवृष्टि वाक्य के लिए एक शब्द होगा –अत्यधिक वर्षा होना

प्रभुजी तुम चंदन हम पानी। जाकी अंग-अगं बास समानी।। प्रस्तुत पंक्तियों के रचयिता है – कबीरदास

जो सबसे आगे रहता हो वाक्य के लिए एक शब्द होगा – अग्रणी

बिहारी ने क्या लिखे – दोहे

रामचरित्रमानस किस भाषा में लिखी गई है – अवधी

राग दरबारी(उपन्यास) के रचयिता है – श्रीलाल शुक्ल

जिसका जन्म न हो एक शब्द बताएँ – अजन्मा

निर्गुण भक्ति काव्य का प्रमुख कवि है – कबीरदास

सगुर्ण भक्ति काव्य का प्रमुख कवि है – सुरदास

छुटकारा दिलाने वाला एक वाक्य शब्द – त्राता

संसद से सड़क तक (काव्य) के रचनाकार है – सुदामा पाण्डेय (धूमिल)

जिसका स्वामी न हो वाक्य के लिए एक शब्द होगा – अनाथ

बचपन और जवानी के बीच की अवस्था – वयःसन्धि

महत्वपूर्ण राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय दिवस Click here

हिन्दी प्रदीप के यशस्वी सम्पादक का नाम है – बाल कृष्ण बट्ट

झरना (काव्य-संग्रह) के रचयिता है – जयशंकर प्रसाद

त्याग-पत्र (उपन्यास) किसकी रचना है – कुमार जनेन्द्र

नामवर सिंह ने अधिकांश क्या लिखा है – आलोचना

रामचरित्रमानस काव्य के लेखक कौन है – तुलसीदास

हिन्दी पत्रिका कदम्बिनी के सम्पादक कौन है – राजेन्द्र अवस्थी

मजदूरी और प्रेम(निबन्ध) के रचनाकार है – सरदार पूर्ण सिंह

जंगल में लगने वाली आग – दावानल

किसी विषय की प री छानबीन करना – विवेचन

नामवर सिंह ने अधिकांश क्या लिखा है – आलोचना

क्षेपक – किसी ग्रन्थ मे अन्य व्यक्ति द्वारा जोड़ा गया भाग

लोग है लागि कवित्त बनावत, मोहिं तो मेरे कवित्त बनावत। प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता है – घनानन्द

जो सरलतापूर्वक प्राप्त किए जा सके – सुलभ

माधुर्य गुण क किस रस में प्रयोग होता है – श्रृगांर

ऊधो मोहिं ब्रज विसरत नाही।

हंससुता की सुन्दर कगरी और द्रुमन की छाँही।।

इन पंक्तियों में कौन-सा रस है- श्रृगार रंस

हिन्दी में मूलतः वर्णो की संख्या कितनी है- 52

भारत के राष्ट्रीय प्रतिक Click here

वर्णों के उच्चारण समूह को क्या कहते है- वर्णमाला

हिन्दी व्याकरण में संज्ञा के मुख्यतः भेद है- 5(व्यक्तिवाचक,जातिवाचक,निश्यवाचक,अनिश्यवाचक,सम्बन्ध-वाचक,)

दरबार किस भाषा का शब्द है- फारसी

उद्धमी का विलोम क्या है- निरुद्धम

अन्धे की लकड़ी मुहावरे का अर्थ है- एकमात्र सहारा

अव्यय के कितने भेद है – 04

सर्वनाम के भेद है – 06

जो धातु संज्ञा या विशेषण से बनती है उसे क्या कहते है – नामधातु

हिन्दी व्याकरण में संज्ञा के मुख्यतः कितने भेद है 05

खड़ी बोली का प्रथम महाकाव्य कौन-सा है – प्रिय-प्रवास

जो सब कुछ जानता है – सर्वज्ञ

करूण रस का स्थायी भाव क्या है – शोक

अन्तःस्थ व्यंजन है – य र ल व

धीरे-धीरे में कौन-सा है – अव्ययीभाव

किस समास में पहला पद संख्यावाचक होता है – द्धिगु

संचारी भावों की संख्या होती है – 33

प्रमुख देशों के राजधानी और मुद्रा Click here

कूप मण्डूक होना मुहावरे का अर्थ है – सीमित ज्ञान या अनुभव होना

क्रिया की पूर्णता और नित्यता या सामान्यता आदि की अभिव्यक्ति क्षमता को कहा जाता है – पक्ष

दो या दो से अधिक धातुओ और दूसरे शब्दों के संयोग से या धातुओ में प्रत्यय लगाने से बनने वाली क्रिया है – यौगिक क्रिया

जिस काल में एक क्रिया का होना दूसरी क्रिया के होने पर निर्भर करता है वह है – हेतुहेतुमदभविष्य

गरीब किस भाषा का शब्द है – अरबी

जो , सो संबन्धवाचक सर्वनाम है।

नारी का बहुवचन है – नारियाँ

जिस अव्यय से स्थान का बोध होता है उसे कहते है – स्थानवाचक अव्यय

जानने की इच्छा रखने वाला कहते है – जिज्ञासु

कायाकल्प, रंगभूमि, गोदान, गबन, मंगलसूत्र(अपूर्ण) – प्रेमचन्द्र

कुण्डलियां छन्द, दोहा एवं रोला छन्दो से मिलकर बनता है।

तिमिर का विलोम होता है – प्रकाश

स्थावर का विलोम है – जंगम

हिन्दी दिवस कब मनाया जाता है – 14 सितंबर

आधुनिक भारतीय भाषा अवधी का विकास किस अपभ्रंश से हुआ है – अर्धमागधी अपभ्रंश

अवधी भाषा का विकास किस अपभ्रश में हुई – अर्धमागधी अपभ्रंश में

वाल्मीकि शुद्ध वर्तनी है।

ठेठ हिन्दी का ठाठ किसकी रचना है- अयोध्या सिंह उपाध्याय (हरिऔध)

वीभत्स रस का स्थायी भाव क्या है- जुगुप्सा

इतिहास प्रैक्टिस सेट सीरिज Click here

छन्द पढ़ते समयआने वाले विराम को क्या कहते है- यति

कबीरदास की भाषा कौन सी है – सधुक्कड़ी

अधिसूचना को अंग्रेजी अनुवाद है – NOTIFICATION

हिन्दी दिवस कब मनाया जाता है – 14 सितम्बर 1949

आधुनिक भारतीय भाषाओं पूर्वी हिन्दी,अवधी,बघेली,एवं छत्तीसगढ़ी का विकास अर्धमागधी अपभ्रंश से हुआ है।

ऊष्म स्वर की संख्या कितनी होती है – 4 ( श , ष , स , ह)

जो शब्द विशेषण की विशेषता बताते है उन्हें क्या कहते है – प्रविशेषण

कबीर की भाषा को पंचमेल खिचड़ी या सधुक्कड़ी भाषा कहा जाता है।

तस्कर,दस्यु,मोषक,खनक ऐ शब्द किस पर्यायवाची शब्द है – चोर

च वर्ग का उच्चारण मूँह के किस भाग से होता है – तालु

जिस सर्वनाम से किसी निश्चित वस्तु का बोध न हो, उसे कहा जाता है – अनिश्यवाचक

मागधी अपभ्रंश से विकसित भाषाएं है – बिहारी, बंगाली. उडिसा(ओडिया) एवं एसमिया

गुच्छा,कुंज,मण्डल ये हमारे समूहवाचक संज्ञा है।

ज्योति का विलोम शब्द है – तम

बैल न कूदे, कूदे तंगी कहावत का अर्थ है – स्वामी के बल पर सेवकका साहस

वलय शब्द का अर्थ है – गोलाकार घेरा

पृथ्वीराज रासो किस काल के कवि माने जाते है- आदिकाल के

हिन्दी का प्रथम महाकाव्य माना जाता है – पृथ्वीराज रासो (चन्दबरदाई)

वह शब्द जो लिंग. बचन,कारक आदि से कभी विकृत नही होते है उसे अविकारी शब्द कहते है।

छन्द से सम्बन्धं गणों की संख्या कितनी होती है – आठ

किसी वस्तु की नाप-तौल का बोध कराता है उसे क्या कहते है – परिमाणवाचक विशेषण

निपात की संख्या कितनी होती है – 09

इसे अवश्य जाने → हिन्दी वर्णमाला का इतिहास Click here

चाबी,बाल्टी,फीता,आलमारी,अनन्नास ये शब्द होते है – पुर्तगाली भाषा

हिन्दी की मूल उत्पति किस अपभ्रंश से मानी गई है – शौरसेनी

दीप-सा मन जल चुका है इस पक्ति में वाचक शब्द है – सा

राज्यपाल में कौन-सी संज्ञा है – जातिवाचक

आकारान्त स्त्रीलिंग एकवचन संज्ञा शब्दों को बहुबचन बनाने के लिए उनमें जोड़ा जाता है – एँ

जिस छन्द में चार चरण और प्रत्येक चरण में 16 मात्राएँ होती है, कहा जाता है – चौपाई

शब्दों के अन्त में लगाए जाने वाले अक्षर समूह को कहते है – प्रत्यय

टहलना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है इस वाक्य में टहलना है – क्रियार्थक संज्ञा

हल्दी का तत्सम शब्द है – हरिद्रा

चरणकमल में कौन-सा समास है – कर्मधारय

सृष्टि शब्द का विलोम है – प्रलय

जिसकी कामना की जा सके वाक्यस के लिए एक शब्द है – कमनीय

रक्तलोचन किसका पर्यायवाची है – कबूतर का

वृद्धि शब्द के उपयुक्त विलोम का चयन कीजिए – ह्रास

आस्तीन का सांप मुहावरे का अर्थ है – कपटी मित्र

महत्वपूर्ण अनेकार्थी शब्द जाने Click here

बड़वानल शब्द के लिए एक उपयुक्त वाक्यांश है – पेट की अग्नि

अपभ्रंश से विकसित आधुनिक भारतीय भाषाएँ है – पश्चिमी हिन्दी,राजस्थानी,ब्रजभाषा एंव खड़ी बोली।

हर्ष,विषाद,विस्मय,घृणा,आश्चर्य,करूणा,भय आदि भाव व्यक्त करने के लिए – विस्मयादिबोधक चिह्र (!)

लम्बोदर,एकदन्त,विनायक,विघ्नराज,गणपति आदि किस का पर्याय है – गणेश

ऋषि का विशेषण शब्द है – आर्ष

कपोत,पारावत,कलरव,रक्तलोचन किस का पर्यायवाची है – कबुतर का

प्राण,लोग,दर्शन,आँसू,ओठ,दाग,अक्षत ये शब्द होते है – बहुवचन

चौपाई छन्द में कितने चरण होते है – चार

भारत की प्रथम देश भाषा है – पालि

जहाँ किसी व्यक्ति को सम्बोधित किया जाए, वहां किस विरामचिह्र का प्रयोग किया जाता है – अल्प विराम

चूहा बिल से बाहर निकला इस वाक्य में प्रयुक्त कारक है – अपादान कारक

आजकल प्रत्येक वस्तु में मिलावट पायी जाती है इस वाक्य में प्रयुक्त मिलावट शब्द में कौन-सी संज्ञा है – भाववाचक

हिन्दी के लिए प्रयुक्त देवनारी लिपि में कुल वर्ण है – 52

धूप में चला नहीं जाता यह वाक्य किस वाच्य का है – भाववाच्य (पहचान जिस नही हो)

क्रोध आने की स्थिति में शान्त रहने की प्रवृति को क्या नाम दिया गया है – महायोग

राम का सारा प्रयत्न निष्फल रहा इस वाक्य का रेखांकित शब्द विशेषण है – अनिश्चित परिमाणबोधक

पालि भाषा मे ही भगवान बुद्ध और उनके अनुयायियों ने जन-साधरण को उपदेश दिए थे।

जहाँ किसी व्यक्ति को सम्बोधित किया जाए वहाँ – अल्प विराम चिह्र काप्रयोग करते है ( प्रिय महाशय, मैं आपका आभारी हूँ)।

प्रसिद्ध व्यक्तियों के लोकप्रिय उपनाम Click here

क्या वह नही आएगा इस वाक्य में क्या है – प्रश्नबोधक निपात है

संयुक्त व्यंजन कि संख्या कितनी होती है – 4 ( क्ष,त्र,ज्ञ,श्र) है

यामा,नीरजा,रशिम,नीहार,स्मृति की रेखाएँ है – महादेवी वर्मा

जो शब्दांश किसी शब्द के अंत में जुड़कर नया शब्द बनाते है, उसे कहते है – प्रत्यय

कवि शब्द में कौन-सा संज्ञा है – जातिवाचक

UPSSSC Hindi Notes PDF Download Click here

गुरु के समीप रहकर अध्ययन करने वाला – अन्तेवासी

जिसके ह्रदय पर आघात हुआ हो – मर्माहत

जो अपने पद से हटाया गया हो – पदच्यूत

जिसे किसी वस्तु की सपृहा न हो – निःस्पृहा/निस्पृह्र

जिसकी पूर्व से कोई आशा न हो – अप्रस्याशित

झगड़ा लगाने वाला मनुष्य – नारद

महल के भीतरी भाग – अन्तःपुर

जो क्षीण न हो सके – अक्षय

जिसके सिर पर चन्द्र हो – चन्द्रशेखर

जिसके ह्रदय में ममता नही है – निर्मम

तिलक लगाने में किस अन्न का प्रयोग होता है – अक्षत

जिसकी जन्म छोटी जाति(निचले वर्ण) में हुआ हो- अन्त्यज

शेर का पर्याय होगा – केहरि, केशरी, वनराज, सिंह, शार्दुल, हरि, मृगराजा

शेषनाग का पर्याय है – अरि, नाग भुजंग. व्याल, उरग, पन्नग, फणीश, सारंग

साखी, सबद, रमैनी किस की रचना है – कबीर दास

हस्य विलोम – दीर्घ

खेल जगत से 1000 प्रश्न अवश्य देखें Click here

कृत् प्रत्यय किन शब्दों के साथ जुड़ते है – क्रिया के साथ

कौन सी रचना संस्कृत के वर्णित छन्दों में है – प्रिय प्रवास

बाणभट्ट की आत्मकथा किसकी रचना है – हजारीप्रसाद द्धिवेदी

 

भारत का संविधान प्रैक्टिस सेट सीरिज Click here

भारतीय संविधान नोट्स PDF Click here

हमारे टेलीग्राम से जुड़ने के लिए  Click here

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: