स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF

इस अध्याय में हम स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF  से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर के बारे में अध्ययन करेगे

प्रतियोगी परीक्षाओं में इस अध्याय से भी प्रश्न पूछे जाते है। अच्छे से पढ़े और नोट्स भी डाउऩलोड कीजिए

स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF

स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF
स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF

नोट – अन्तरिम सरकार एवं स्वतंत्र भारत के पहले मंत्रिमण्डल दोनों में 14 सदस्य थे ।

प्रश्न – स्वतंत्र भारत का पहला प्रधानमंत्री कौन थे ।

उत्तर – जवाहर लाल नेहरू

प्रश्न – स्वतंत्र भारत के प्रथम विदेश मंत्री कौन थे ।

उत्तर – जवाहर लाल नेहरू

प्रश्न – स्वतंत्र भारत के प्रथम गृह सूचना आयुक्त कौन थे ।

उत्तर – सरदार पटेल

प्रश्न – स्वतंत्र भारत का पहला प्रसारण मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – सरदार पटेल

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम राज्यों के मामले के मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – सरदार पटेल

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम खाद्य एवं कृषि मन्त्रि कौन थे ।

उत्तर – राजेन्द्र प्रसाद

प्रश्न – स्वतंत्र भारत के प्रथम शिक्षा मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – अबुल कलाम आजाद

प्रश्न – स्वतंत्र भारत के प्रथम वित्त मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – आर. के. शणमुगम शेट्टी

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम कानून मंत्री कौन थे ।

उत्तर – डॉ. भीम राव अम्बेडकर

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम रेल मंत्री कौन थे ।

उत्तर – जॉन मथाई

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम परिवहन मन्त्री कौन थे।

उत्तर – जॉन मथाई

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम श्रम मन्त्री कौन थे।

उत्तर – जगजीवन राम

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम रक्षा मन्त्री कौन थे।

उत्तर – बलदेव सिंह

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम स्वास्थ्य मंत्री कौन थे ।

उत्तर – राजकुमारी अमृत कौर

प्रस्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम वाणिज्य मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – सी. एस. भाभा

प्रश्न – स्वतंत्र भारत के प्रथम संचार मन्त्री कौन थे ।

उत्तर – रफी अहमद किदवई

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम उद्योग एवम् आपूर्ति मन्त्री कौन  है।

उत्तर – डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी

प्रश्न – स्वतन्त्र भारत के प्रथम कार्य, एवं खान एवं ऊर्जा मन्त्री कौन थे।

उत्तर – नरहर विष्णु गाडगिल

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य जाने 

उच्चतम न्यायलय को अनुच्छेद 137 के तहत पुनर्विलोकन की शक्ति प्राप्त है।

सरोजनी नायडू स्मृति में प्रति वर्ष 13 फरवरी को महिला दिवस मनाया जाता है।

अंडमान -निकोबार द्वीपसमूह कलकत्ता उच्च न्यायालय के अधिकार क्षेत्र में आता है।

अनुच्छेद 43 के तहत मनरेगा कार्यक्रम लाया गया था।

भारत के प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह अपने कार्यकाल में संसद में कभी भी उपस्थिति नहीं हुए ।

संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना 1945 में हुई ।

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 371 में राज्यों के लिए विशेष उपबंध किये गये है।

संविधान 86 वाँ संशोधन 6 से 14 वर्ष आयु के बच्चों को निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा का प्रावधान किया गया है।

53 वें संविधान संशोधन द्वारा मिजोरम को राज्य का दर्जा दिया गया था।

36 वें संविधान संशोधन द्वारा सिक्किम को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया था।

लोकसभा में आंग्ल भारतीय सदस्यों के लिए प्रावधान अनुच्छेद 331 में थे । जिसे 104 वे संविधान संशोधन द्वारा 2019 में समाप्त कर दिया गया था।

संविधान सभा की प्रथम बैठक की अध्यक्षता डॉ. सच्चिदानन्द सिन्हा ने की थी।

भारतीय संविधान सभा  में महिला सदस्यों की संख्या 15 थी।

डॉ. अम्बेडकर संविधान सभा की प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे ।

योजना आयोग की स्थापना 15 मार्च 1950 को हुई थी।

भारतीय संविधान में कुल 12 अनुसूचियाँ है।

लोक सभा के प्रथम अध्यक्ष जी.वी. मावलंकर थे .

आन्ध्र प्रदेश भाषाई आधार पर गठित भारत का पहला राज्य है।

राष्ट्रीय सुरक्षा समिति का अध्यक्ष प्रधानमंत्री होता है।

अनुच्छेद 40 राज्य सरकार को ग्राम पंचायतों को संगठित करने के लिए निर्देशित करता है।

भारत का संविधान 2 वर्ष 11 माह 18 दिन में बन कर तैयार हुआ था।

लाभ के पद का निर्धारण लोकसभा अध्यक्ष करता है ।

राज्य सभा को धन-विधेयक पर सहमति  देने के लिए अधिकार 14 दिन का सीमित समय प्राप्त है। 

कलकत्ता में सर्वोच्च न्यायालय की स्थापना का प्रावधान रेगुलेटिंग एक्ट – 1773 में किया गया था।

भारतीय संविधान को संविधान सभा द्वारा अपनाया गया था।

 

भारतीय संविधान नोट्स पी.डी.एफ. Click here
भारत रत्न विजेता लिस्ट पी.डी.एफ.  Click here
हमारे टेलीग्राम से जुड़ने के लिए यहाँ आप 2000+ पी.डी.एफ.  Click here
स्वतंत्र भारत का पहला मंत्रिमंडल PDF Click here
error: Content is protected !!